सुबह का नाश्ता मटर की कचौड़ी के साथ

राजस्थान में नाश्ते में मटर कचौड़ी परोसी जाती है। आपने शायद ही कभी ऐसी कचौड़ी चखी होगी जिसका भरवां मिश्रण इतना स्वादिष्ट हो। क्रश किये हुए मटर को मसालों के शानदार मेल के साथ चटपटा बनाया गया है, जिनमे से कलौंजी का स्वाद उभर कर आता है। साथ ही आपको इसके भरवां मिश्रण का नरम रुप भी पसंद आएगा, यह खाने में बहोत ही करारी लगती है। यह शानदार व्यंजन आप हाई टी पार्टी में परोसें, आप के मेहमान को ज़रुर पसंद आएगा।

सामग्री

आटे के लिए
2 कप मैदा
1/4 कप पिघला हुआ घी
नमक स्वादअनुसार

हरे मटर के भरवां मिश्रण के लिए
2 कप हरे मटर
1 टी-स्पून बारीक कटी हुई हरी मिर्च
1 टी-स्पून कसा हुआ अदरक
2 टेबल-स्पून तेल
1/2 टी-स्पून कलौैंजी
2 टी-स्पून सौंफ
2 तेजपत्ता
1 टी-स्पून लाल मिर्च पाउडर
1 टी-स्पून गरम मसाला
4 टेबल-स्पून बारीक कटा हुआ हरा धनिया
नमक स्वादअनुासर

अन्य सामग्री
तेल, तलने के लिए
बनाने की विधि 
आटे के लिए- सबसे पहले 
सभी सामग्री को एक गहरे बाउल में मिलाकर गुनगुने पानी का प्रयोग कर हल्का नरम आटा 4-5 मिनट तक अच्छी तरह गूँथ लें। अब आटे को गीले सूती कपड़े से ढ़ककर15 मिनट के लिए रख दें।

मटर के भरवां मिश्रण के लिए- 
हरे मटर, हरी मिर्च और अदरक को मिलाकर, बिना पानी के प्रयोग के, मिक्सर में पीसकर दरदरा मिश्रण बनाकर एक तरफ रख दें। अब एक गहरे नॉन-स्टिक पॅन में तेल गरम करें, कलौंजी, सौंफ, तेज़पत्ता और हरे मटर का मिश्रण डालकर अच्छी तरह मिला लें और बीच-बीच में हिलाते हुए, धिमी आँच पर 6 से 7 मिनट तक पका लें। लाल मिर्च पाउडर, गरम मसाला, धनिया और नमक डालकर अच्छी तरह मिला लें और बीच-बीच में हिलाते हुए, मध्यम आँच पर और 1 मिनट तक पका लें। इसमें से तेज़पत्ता निकालकर फेंक दें। भरवां मिश्रण को 12 भाग में बाँटकर एक तरफ रख दें।
आटे के प्रत्येक भाग को गोल आकार में बेल लें। हरे मटर के भरवां मिश्रण के 1 भाग को बीच में रखें। सभी किनारों को बीच मे साथ लाकर अच्छी तरह बंद कर लें और बचा हुआ आटा निकाल लें। भरी हुई कचौड़ी को दुबारा गोल आकार में बेल लें, लेकिन ध्यान रखें कि किनारों से भरवां मिश्रण ना निकले। कचौड़ी के बीच के भाग को अपने अंगूठे से हल्का दबा लें। अब एक गहरी नॉन-स्टिक कढ़ाई में तेल गरम करें और एक बार में 6 कचौड़ी डालकर मध्यम आँच पर 4 मिनट के लिए तलें। आँच को धिमा कर और 5-6 मिनट के लिए तलें। तेल सोखने वाले कागज़ पर निकाल ले।इसी 6 और कचौड़ी तल लें। इसके बाद बनने के बाद खाने के लिए गरमा गरमा परोसें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *