पुष्कर मेले में स्नान व देव दर्शन के लिये शहरी व ग्रामीण श्रद्धालुओं का सैलाब उमड़ रहा

पुष्कर। अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त सालाना मेला में जहां शहर की मरू भूमि में सजी पशुओं की मंडी में मवेशियों की खरीद-फरोख्त हो रही है। वहीं मेला स्टेडियम में आयोजित पशु व खेल-कूद प्रतियोगिता आकर्षण का केंद्र बनी हुई है। रात को कलाकार रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुतियां देकर लोक, कला एवं संस्कृति की छटा बिखेर रहे हैं। मेले का लुत्फ उठाने के लिए बड़ी संख्या में विदेशी मेहमान यहां ठहरे हैं। सरोवर में स्नान व देव दर्शन के लिये शहरी व ग्रामीण श्रद्धालुओं का सैलाब उमड़ रहा है।
मेले में गुरुवार को रंग-बिरंगी राजस्थानी पोशाक में सजी-धजी दो हजार ग्रामीण व शहरी महिलाएं मेला स्टेडियम में घूमर की प्रस्तुति देंगी। सहायक पर्यटन अधिकारी प्रद्युम्न सिंह ने बताया कि यह प्रस्तुति स्वयं सहायता समूह की ओर से आयोजित हाेगी। नारी शक्ति अवार्ड विजेता बाड़मेर की सामाजिक कार्यकर्ता रूमा देवी एवं चेंज मेकर अवार्ड से सम्मानित पायल जांगिड़ का टॉक शो होगा। पुष्कर मेले में चल रही खेलकूद प्रतियोगिता के दौरान बुधवार को मेला मैदान में स्थानीय व विदेशी मेहमानों के बीच कबड्‌डी का रोमांचक मुकाबला हुआ। विदेशी प्रतियोगियों ने भी स्थानीय युवकों की टीम का डट कर सामना किया। मेहमान भले ही मैच हार गए। लेकिन रेतीले मैदान में पहली बार कबड्डी खेल कर वे काफी रोमांचित हुए। मेजबान टीम 8 पॉइंट से विजयी हुई। विजेता व उपविजेता टीम को मेला मजिस्ट्रेट देविका तोमर ने प्रशस्ति पत्र व स्मृति चिह्न देकर पुरस्कृत किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *