आसाराम की पैरोल याचिका पर अब सुनवाई होगी 14 दिसम्बर को

जोधपुर, जस्टिस संदीप मेहता व विनीत कुमार माथुर की खंडपीठ में नाबालिग के साथ यौन उत्पीड़न के मामले में आजीवन कारावास की सजा काट रहे आसाराम की पैरोल याचिका पर बुधवार को सुनवाई हुई। सरकार ने अपना जवाब पेश कर दिया है, अब इस मामले में 14 दिसंबर को सुनवाई होगी।

आसाराम के भाणजे रमेश भाई की ओर से पैरोल याचिका दायर की गई है। जिला पैरोल कमेटी द्वारा पैरोल के प्रार्थना पत्र को खारिज करने पर यह याचिका दायर की गई है। याचिका में कोर्ट से आग्रह किया गया, कि आसाराम पिछले पांच साल से अधिक समय से जेल में है, जहां उसका आचरण भी संतोषप्रद रहा है। इसलिए पहला पैरोल उसका अधिकार है। इस पर कोर्ट ने सरकार से जवाब मांगा था।

सरकार की ओर से जवाब पेश कर दिया गया है। जवाब में बताया गया, कि पैरोल प्रार्थना पत्र में उल्लेख किया गया है, कि आसाराम ने एक चौथाई सजा पूरी कर ली है, इसलिए प्रथम पैरोल पाने का उसका अधिकार है। सरकार ने तर्क दिया कि आसाराम को मृत्यु तक आजीवन कारावास की सजा से दंडित किया है, ऐसे में शेष सजा की गणना कैसे की जाए।

जवाब में यह भी कहा गया, कि महानिदेशक (जेल) ने आसाराम को पैरोल के संबंध में राज्य सरकार से विधिक राय भी मांगी थी, जिसमें भी पैरोल देने से इनकार किया गया है। जवाब में यह भी बताया गया, कि इस प्रकरण के अलावा आसाराम के खिलाफ तीन अन्य प्रकरण भी विचाराधीन है। कोर्ट ने अब इस मामले में अगली सुनवाई 14 दिसंबर को मुकर्रर की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *